शराबखोरी के विवाद में साथी की हत्या करने वाला आरोपी पहुंचा जेल

0
690
धरमपुर थाना पुलिस की अभिरक्षा में हत्यारोपी उद्री लोध। (फाइल फोटो)

* धरमपुर थाना पुलिस ने वारदात के 48 घण्टे अंदर आरोपी को किया गिरफ्तार

शादिक खान, पन्ना।(www.radarnews.in) जिले के धरमपुर थाना क्षेत्र के ग्राम सल्हाई में शराबखोरी के दौरान हुए विवाद में अपने साथी की हत्या करने के आरोपी उद्री लोध को पुलिस ने वारदात के 48 घण्टे के अंदर गिरफ्तार कर लिया है। हत्यारोपी को जेएमएफसी न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में जिला जेल पन्ना भेजा जा चुका है। उल्लेखनीय है कि 22-23 जुलाई की दरम्यानी रात में सिल्हाई निवासी बाबू लोध पिता श्रीपाल और इसी गांव के उद्री लोध पिता केशव लोध 19 वर्ष ने कथित तौर पर पहले तो जमकर शराबखोरी की। फिर गुटखा खाने को लेकर उनके बीच विवाद हो गया। इस मामूली सी बात पर उद्री लोध इतना आक्रोशित हो गया कि उसने अपने साथी बाबू लोध के ऊपर कुल्हाड़ी से प्रहार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। इस सनसनीखेज घटना की सूचना मृतक के बड़े भाई राममिलन लोध के द्वारा धरमपुर थाना पुलिस को दी गई। पुलिस ने आरोपी उद्री लोध के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की।
पुलिस अधीक्षक पन्ना मयंक अवस्थी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक व्हीकेएस परिहार के द्वारा वारदात की गंभीरता को देखते हुए फरार हत्यारोपी को तत्काल गिरफ्तार करने के निर्देश के दिए गए। साथ ही अजयगढ़ एसडीओपी इसरार मंसूरी के निर्देशन में आरोपी धरपकड़ के लिए एक पुलिस टीम गठित की गई। शनिवार 25 जुलाई को पुलिस ने तत्परता से कार्रवाई करते हुए उद्री लोध को ग्राम सिल्हाई में मंदिर के समीप घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया। हत्यारोपी की धरपकड़ में नवागत थाना प्रभारी धरमपुर सुधीर कुमार बैगी, खोरा चौकी प्रभारी एवं एएसआई बी. एल. पाण्डेय, एएसआई जे. आर. तिवारी, एएसआई रामफल शर्मा, आरक्षक रोहित शिवहरे, आरक्षक प्रमोद पाल का सराहनीय योगदान रहा। पुलिस अधीक्षक ने हत्यारोपी की तत्परता से धरपकड़ करने वाली टीम के सरहनीय कार्य के लिए नगद पुरुष्कार देने की घोषणा की है।