जेल में कल दाख़िल हुआ और आज फाँसी के फंदे पर लटकी मिली लाश, विचाराधीन कैदी के आत्महत्या करने से मचा हड़कम्प

0
1316

* जिला जेल पन्ना के क्वारंटाइन वार्ड की घटना

* सुबह नाश्ता करने के बाद चादर की रस्सी बनाकर लगाई फांसी

* मृतक मंगूरे को आर्म्स एक्ट के मामले में पुलिस ने किया था गिरफ्तार

शादिक खान, पन्ना। (www.radarnews.in) मध्य प्रदेश के पन्ना में स्थित जिला जेल में आज सुबह एक विचाराधीन कैदी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस सनसनीखेज घटना की भनक लगने पर जेल प्रबंधन में हड़कम्प मच गया। पन्ना की इन्द्रपुरी कॉलोनी की दलित बस्ती में रहने वाले मंगूरे उर्फ़ अन्नू अहिरवार 26 वर्ष को सिविल लाइन चौकी पुलिस ने कल गिरिफ्तार किया था। न्यायालय के आदेश पर मंगूरे को कल शाम को ही पुलिस ने जेल में दाखिल कराया था। इसलिए महज कुछ घण्टे बाद आज सुबह जब इस युवक के आत्महत्या करने की खबर आई तो लोग हैरान रह गए। न्यायिक अभिरक्षा में कैदी की मौत होने की सूचना मिलने के पर प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों ने जिला जेल पहुंचकर घटनास्थल का मुआयना किया और ड्यूटी पर तैनात रहे जेल प्रहरियों से घटना के सम्बंध में जानकारी प्राप्त की गई।
पुलिस लाइन चौकी पन्ना में गिरफ्तारी के बाद लिया गया मंगूरे अहिरवार का फोटो।
जेल अधीक्षक पन्ना दिनेश इमले ने बताया कि गुरुवार 4 जून की सुबह करीब 10 मैं जेल परिसर में स्थित अपने शासकीय आवास में था, तभी मुख्य प्रहरी काशीराम चर्मकार आये और उन्होंने विचाराधीन कैदी मंगूरे उर्फ़ अन्नू अहिरवार पुत्र धन्नू अहिरवार 26 वर्ष के द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने की जानकारी दी। घटना की गंभीरता को देखते हुए जेल अधीक्षक इमले तुरंत मौके पर पहुंचे और उनके द्वारा जिला एवं सत्र न्यायाधीश पन्ना, कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक तथा जेल विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी जानकारी दी गई। कुछ ही देर में एडीएम पन्ना बी.एस. धुर्वे, एसडीएम शेर सिंह मीणा, संयुक्त कलेक्टर रचना शर्मा, एसडीओपी पन्ना आर. एस. रावत, कोतवाली थाना टीआई हरी सिंह ठाकुर ने जिला जेल पहुंचकर घटनास्थल एवं मृतक के शव का मुआयना किया। इस दौरान मृतक मंगूरे के परिजन भी जेल के अंदर मौजूद रहे। प्रारंभिक जांच में आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका।
जेल में विचाराधीन कैदी के द्वारा आत्महत्या करने की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी।
जेल अधीक्षक दिनेश इमले ने बताया कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण को देखते हुए जेल मुख्यालय के निर्देश है कि प्रत्येक नए कैदी को क्वारंटीन किया जाए। इसलिए बुधवार 3 जून की शाम को आर्म्स एक्ट के मामले में मंगूरे अहिरवार के जेल में दाखिल होने पर उसे भी एक कमरे में पृथक से क्वारेंटाइन किया गया। गुरुवार 4 जून को सुबह करीब 8 बजे कैदी मंगूरे ने नाश्ता किया। कुछ देर बाद जेल स्टॉफ ने जब देखा तो उसका शव चादर से बनाई गई रस्सी के फंदे पर लटकता मिला। उक्त रस्सी कमरे के लेण्टर में निकले कुंदे में बंधी थी।
पन्ना कोतवाली थाना के टीआई हरी सिंह ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि मंगूरे अहिरवार आपराधिक प्रवृत्ति का युवक था उसके विरुद्ध चोरी समेत अवैध शस्त्र रखने के करीब 15 प्रकरण पंजीबद्ध हैं। आपने बताया कि जिला जेल में उसके आत्महत्या करने की सूचना मिलने पर नियमनुसार कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल यह पता नहीं चल सका कि इस विचाराधीन कैदी ने जेल में दाखिल होने के महज कुछ घण्टे बाद ही आत्मघाती कदम क्यों उठाया। अपुष्ट सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जेल में आने के बाद मंगूरे नेअपने परिजनों से फोन पर बात करने की गुजारिश की थी लेकिन यह तुरंत संभव नहीं सकी।