प्रेम में मिला धोखा : विवाह का झांसा देकर किया युवती का शारीरिक शोषण, गर्भवती होने पर विवाह से कर दिया इंकार, पीड़िता ने फाँसी लगाकर दे दी जान

0
478
पन्ना में शव विच्छेदन गृह के बाहर मौजूद मृतिका के परिजन।

*   मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के बृजपुर थाना क्षेत्र की घटना

*   मृतिका के माता-पिता बोले आरोपी युवक को मिले कठोर सजा

पन्ना।(www.radarnews.in) विवाह का झांसा देकर युवती का यौन शोषण किया, जब वह गर्भवती हो गई तो आरोपी युवक ने विवाह करने से इन्कार कर दिया। प्रेम में मिले इस धोखे और सामाजिक बदनामी के डर से परेशान होकर युवती ने शुक्रवार 29 जनवरी की सुबह कथित तौर फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना पन्ना जिले के बृजपुर थाना क्षेत्र की है। थाना पुलिस ने घटना पर फिलहाल मर्ग कायम कर मामले को जाँच में लिया है। पुलिस ने युवती का पोस्टमार्टम कराने के पश्चात शव को परिजनों को सौंप दिया।
आज पन्ना के शव विच्छेदन गृह के बाहर बिलखते वृद्ध दम्पत्ति ने जानकारी देते हुए बताया कि उनकी बेटी सरिता 19 वर्ष (परिवर्तित नाम) को गाँव के ही स्वजातीय युवक भारत गौंड़ (आदिवासी) ने अपने प्रेमजाल में फंसा लिया था। विवाह का झांसा देकर भारत ने उसका लम्बे समय तक शारीरिक शोषण किया। जब वह गर्भवती हो गई तो भारत विवाह करने से बहानेबाजी करने लगा। गत दिवस भारत ने अपने मामा सजन गौंड़ व नरेशा गौंड़ की मदद से सरिता का गर्भपात कराने के लिए उसे दवाएं दी गईं। लेकिन उन दवाओं का कोई असर न होने पर भारत ने सरिता को अपनाने से साफ़ इन्कार कर दिया।
प्रेम में मिले इस धोखे से आहत और व्यथित नवयुवती ने शुक्रवार की सुबह अपनी माँ को पूरे मामले की जानकारी दी। माँ ने सरिता को उसके पिता के खेत से वापस घर लौटने पर जरुरी कदम उठाने का भरोसा दिलाया। इस बीच पीड़िता ने अपने घर के अंदर वाले कमरे में फांसी लगा ली। कुछ आहट मिलने पर माँ ने अंदर जाकर देखा तो वह दंग रह गई। बेटी की जान बचाने के लिए कथित तौर माँ ने रस्सी काटकर उसे आनन-फानन फाँसी के फंदे से नीचे उतारा। लेकिन तब तक सरिता की साँसें हमेशा के लिए थम चुकीं थीं।
उल्लेखनीय है कि, पन्ना में मृतिका के पोस्टमार्टम के दौरान अजयगढ़ एसडीओपी एवं बृजपुर थाना प्रभारी शव विच्छेदन गृह के बाहर मौजूद रहे। घटना के संबंध जब एसडीओपी अजयगढ़ से जानकारी चाही गई तो उन्होंने थाना प्रभारी बृजपुर से बात करने को कहा। थाना प्रभारी सिद्धार्थ शर्मा से पूँछतांछ करने पर वे जानकारी देने से बचते रहे। उन्होंने सिर्फ इतना ही बताया कि युवती की मौत फाँसी लगाने से हुई है। मृतिका के परिजनों द्वारा घटनाक्रम के संबंध में दी गई जानकारी को साझा करने से थाना प्रभारी ने मना कर दिया। वहीं पीड़ित परिजन मृतिका की उम्र 17 वर्ष बता रहे हैं जबकि पुलिस के द्वारा आयु 19 वर्ष बताई जा रही है। अपुष्ट सूत्रों की मानें तो पुलिस ने आरोपी युवक भारत गौंड़ (आदिवासी) को हिरासत में ले लिया है। लेकिन थानां प्रभारी इससे इंकार कर रहे हैं।