दबंगई : बजरंग दल का नेता कट्टा लेकर सुलह के लिए थाना पहुंचा, कुर्सी पर बैठते ही जमीन पर गिरा कट्टा, पुलिस ने दर्ज की FIR

0
1615
फाइल फोटो।

*     दूसरे पक्ष के हंगामा करने पर थाना से भाग निकला आरोपी

*     मध्यप्रदेश के पन्ना जिले के अजयगढ़ क़स्बा का मामला

पन्ना। (www.radarnews.in) जिले के अजयगढ़ क़स्बा में बजरंग दल के सह संयोजक की दबंगई का हैरान करने वाला मामला सामने आया है। अपने पद व रुतबे की हनक में रहने वाले बजरंग दल के युवा नेता अजय नामदेव को अवैध कट्टा-कारतूस लेकर थाना पहुंचना भारी पड़ गया। दो पक्षों में हुए विवाद का पटाक्षेप कर उनके बीच आपस में सुलह कराने पुलिस के बुलावे वह थाना पहुंचा था, जैसे ही वह कुर्सी पर बैठने लगा तभी अचानक उसकी कमर से कट्टा नीचे गिर गया। इसे देख मौके पर मौजूद दूसरे पक्ष ने थाना में हंगामा शुरू कर दिया। इस बीच गिरफ्तारी के डर से युवा नेता पुलिस को चकमा देकर भाग निकला। पुलिस ने कट्टा-कारतूस जब्त कर मामले की गंभीरता और लोगों के आक्रोश के मद्देनजर आनन-फानन में आर्म्स एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है।

सिंहपुर विवाद में सुलह कराने थाने बुलाया था

आर्म्स एक्ट का आरोपी बजरंग दल नेता अजय नामदेव।
पन्ना जिले के अजयगढ़ थाना अंतर्गत आने वाले सिंहपुर ग्राम में दो दिन पूर्व दो पक्षों के मध्य हुए विवाद के बाद तनावपूर्ण स्थिति निर्मित हो गई थी। जिसे देखते हुए वहां अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया था। क्षेत्र में शांति-सौहार्द व कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए शुक्रवार 7 अक्टूबर 2022 को दोपहर करीब 1 बजे अजयगढ़ थाना प्रभारी एवं निरीक्षक हरि सिंह ठाकुर ने दोनों पक्षों में आपसी सुलह कराने के इरादे से बजरंग दल के सह संयोजक अजय नामदेव तथा सिंहपुर सरपंच योगेन्द्र धूरिया को थाना में चर्चा के लिए बुलाया था। थाना पहुंचने पर कुर्सी में बैठने के दौरान अजय की कमर में पैंट के सहारे छिपा कट्टा अचानक जमीन पर गिर गया। यह देख वहां मौजूद दूसरे पक्ष के लोग और थाना प्रभारी पल भर के लिए दंग रह गए।
पुलिस के द्वारा जब्त किया गया बजरंग दल नेता का अवैध कट्टा।
सुलह की बातचीत शुरू होने से पहले ही पुलिस के सामने युवा नेता की दुस्साहसिक हरकत सामने आ गई और मामला तूल पकड़ने लगा। जिसे देख बजरंग दल नेता कट्टा छोड़कर थाना से भाग निकला। इससे आक्रोशित दूसरे पक्ष के लोग थाना परिसर में हंगामा कर आरोपी की गिरफ़्तारी की मांग करते रहे। अजयगढ़ थाना पुलिस ने युवा नेता अजय के खिलाफ आर्म्स एक्ट की धारा 25/27 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है।

अवैध कट्टा में लोड था कारतूस

हरि सिंह ठाकुर, थाना प्रभारी, अजयगढ़, जिला पन्ना।
अजयगढ़ थाना प्रभारी एवं निरीक्षक हरि सिंह ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि, ग्राम पंचायत सिंहपुर सरपंच योगेन्द्र धूरिया और अजय नामदेव के बीच कल वाद-विवाद हुआ था। जिसके संबंध में दोनों पक्षों को समझाने के लिए थाना बुलाया था। योगेन्द्र थाना में मौजूद था तभी अजय नामदेव कमर में अवैध कट्टा खोंसकर थाना पहुंचा। जैसे ही वह कुर्सी पर बैठने लगा तभी कट्टा अचानक नीचे गिर गया। अवैध कट्टा में जिंदा कारतूस लोड पाया गया, जिसे जब्त कर अजय के खिलाफ आर्म्स एक्ट का प्रकरण कायम कर लिया है। आरोपी से जुड़े एक सवाल पर थाना प्रभारी ने किसी दल का नाम लिए बगैर सिर्फ इतना कहा, हां वह किसी दल से संबंधित है। अक्सर विवादित और तनावपूर्ण मसलों को लेकर सक्रिय रहने वाले हिंदूवादी संगठन बजरंग दल के सह संयोजक अजय नामदेव का यह दुस्साहसिक कारनामा लोगों के बीच चर्चा का विषय बना है।