डबल ब्लाइंड मर्डर केस | नाबालिग दलित लड़की और युवक के हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए : पटैरिया

0
748
पूर्व मंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष राजा पटैरिया को अपनी पीड़ा सुनाते हुए दलित परिवार की शोक संतृप्त महिलायें।

*    पूर्व मंत्री राजा पटैरिया ने इटवां-करहिया पहुंचकर शोक संतृप्त परिजनों को ढांढस बंधाया

*     पीड़ित भूमिहीन परिवारों की आर्थिक स्थिति दयनीय, नहीं मिल रहा योजनाओं का लाभ

पन्ना। (www.radarnews.in) जिले के सलेहा थाना अंतर्गत छह दिन पूर्व हुए सनसनीखेज़ डबल मर्डर मिस्ट्री की गुत्थी को पन्ना पुलिस छह दिन बाद भी सुलझा नहीं पाई। दिल दहलाने वाली इस वारदात को अंजाम देने वाले हत्यारों को पकड़ना तो दूर पुलिस अब तक उनका सुराग भी नहीं लगा पाई। अज्ञात आरोपियों के द्वारा दिनदहाड़े दुस्साहसिक तरीके से लमकुश ग्राम मार्ग पर नाबालिग दलित छात्रा और युवक की गला रेतकर निर्ममता पूर्वक हत्या किए जाने से पूरे इलाके में भय व्याप्त है। इतनी बड़ी वारदात को लेकर पुलिस की जांच और खुलासे में हो रही देरी पर पूर्व मंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष राजा पटैरिया ने गहरी नाराज़गी जाहिर की है।

शोक संवेदना व्यक्त की

पन्ना जिले के भ्रमण कार्यक्रम के दौरान शनिवार 15 अक्टूबर को पूर्व मंत्री राजा पटैरिया ने सलेहा थाना के इटवां-करहिया ग्राम पहुंचकर मृत नाबालिग दलित छात्रा और युवक के परिजनों से मुलाकत की तथा घटना के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त की गई। उन्होंने शोक संतृप्त परिजनों को ढांढस बंधाते हुए ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति और इस गहन आघात को सहन करने का संबल पीड़ित परिजनों को प्रदान करने के लिए प्रार्थना की। दुःख की इस घड़ी में शोक संतृप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता श्री पटैरिया भरोसा दिलाया, मृत बच्चों को न्याय दिलाने के लिए चाहे जिस भी स्तर पर संघर्ष करना पड़े मैं हर क़दम पर साथ मजबूती खड़ा रहूंगा। इस दौरान जनपद पंचायत गुनौर के उपाध्यक्ष परमानंद शर्मा, वरिष्ठ नेता बिहारी लाल वर्मा सहित क्षेत्र के अन्य कांग्रेस नेता उनके साथ रहे।

कानून व्यवस्था की स्थिति चिंताजनक

प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष राजा पटैरिया ने लमुकश ग्राम मार्ग पर दिनदहाड़े दोहरे हत्याकांड को अंजाम देकर अज्ञात हत्यारोपियों के भाग निकलने और अब तक उनका सुराग ना लगा पाने को पन्ना पुलिस की बड़ी नाकामी करार दिया है। उन्होंने कहा जिले में घटित हाल-फ़िलहाल की घटनाओं से साबित होता है जिले में कानून व्यवस्था अत्यंत ही लचर स्थिति में है। सत्तापक्ष के इशारे पर काम करने जुटी पुलिस को अपराधों की रोकथाम और कानून-व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने से कोई सरोकार नहीं है। इसलिए अपराधियों में पुलिस का तनिक भी खौफ नजर नहीं आ रहा है। आपने पुलिस अधीक्षक पन्ना से मांग की है, डबल ब्लाइंड मर्डर केस का जल्द से जल्द खुलासा कर आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए। श्री पटैरिया ने मजदूरी पर आश्रित दोनों पीड़ित दलित भूमिहीन परिवारों की दयनीय आर्थिक स्थिति के मद्देनजर उन्हें पात्रतानुसार शासन की योजनाओं का लाभ प्राथमिकता से दिलाये जाने की भी मांग की है।

रास्ते में मिले थे खून से लथपथ दोनों शव

उल्लेखनीय है कि, पन्ना जिले में सलेहा थाना अंतर्गत दिनांक 10 अक्टूबर 2022 की सुबह लमकुश ग्राम मार्ग पर नाबलिग छात्रा और नवयुवक का खून से लथपथ शव मिलने से इलाके में सनसनी फ़ैल गई थी। दोनों की हत्या अज्ञात आरोपियों के द्वारा बड़े ही निर्मम तरीके से गला रेतकर की गई थी। मृतकों की शिनाख्त इटवां-करहिया निवासी कुमारी रक्षा वर्मा पिता हरवंश वर्मा 16 वर्ष और सोनू पिता लल्लू वर्मा 18 वर्ष के रूप में की गई थी। कक्षा 9वीं की छात्रा रक्षा घटना दिनांक की सुबह करीब 8 बजे तिमाही परीक्षा में शामिल होने अपने घर से पटना-तमोली जाने के लिए निकली थी। रास्ते में रक्षा के शव के ही नजदीक सोनू वर्मा की लाश मिली थी।

विषय से संबंधित अधिक जानकारी के लिए नीचे दी गई लिंक को क्लिक करें –

MP | नाबालिग लड़की और लड़के की धारदार हथियार से जघन्य हत्या