जिले में 12250 व्यक्तियों को कम्युलेटिव किया गया, होम आइसोलेशन वालों के हाथ में सील और घर में लगा रहे स्टीकर

0
649
पन्ना जिले में होम क्वारेंटाइन में रह रहे लोगों के सतत सम्पर्क हैं आरआरटी मोबाइल टीम।

* पन्ना जिले में कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु कार्यवाही जारी

* होम क्वारेन्टाइन लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण में जुटीं 32 आरआरटी मोबाइल टीम

पन्ना। (www.radarnews.in) मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एल.के. तिवारी द्वारा बताया गया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा महामारी घोषित नोवल कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले में निरंतर कार्यवाही जारी है। अन्य राज्यों से 03 अप्रैल को 808 व्यक्ति आए हैं। इस तरह जिले अब तक अन्य राज्यों से आए हुए 8728 लोगों को कम्युलेटिव किया गया है। इन सभी का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा चुका है।
एक घर में स्वैच्छिक होम आईसोलेशन का स्टीकर चस्पा कर वापस लौटते चिकित्सक एवं स्वास्थ्यकर्मी।
जिले में अब तक 12250 लोगों को कम्युलेटिव किया गया है। आज दिनांक को 27 लोगों को घर पर आइसोलेशन में रखा गया है। जिले में अब तक 964 व्यक्ति घरों में ही आइसोलेशन में रह रहे हैं। अब तक 5 नमूने लिए गए। यह सभी नमूने निगेटिव पाए गए हैं।
होम आइसोलेशन में रहने वाले नवयुवक की पहचान के लिए उसकी हथेली में सील लगाते चिकित्सक।
जिले में नोबल कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु शासन के निर्देशानुसार आवश्यक मानव संसाधन की पूर्ति हेतु जिले में आयुष चिकित्सक हेतु प्राप्त आवेदन के तहत आयुष चिकित्सकों को नियोजित कर 15 एसआरआरटी टीम का गठन कर कोरोना वायरस संक्रमण स्क्रीनिंग, टेस्टिंग हेतु सैम्पल कलेक्शन, दवा वितरण तथा काॅन्ट्रेक्ट हिस्ट्री लेने का कार्य किया जाएगा।
अपने हाथ में लगी को सील को दिखाता होम आईसोलेशन में रहने वाला नवयुवक।
जिले की 32 आरआरटी मोबाइल टीम के द्वारा जिले के ग्रामों का भ्रमण कर चिन्हित होम क्वारेन्टाइन घरों में पहुंचकर पुनः स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। उनके घरों में स्वैच्छिक होम आईसोलेशन का स्टीकर चस्पा कर उनकी पहचान सुनिश्चित करने हेतु ऐसे व्यक्तियों की कलाई में स्वैच्छिक होम आइसोलेशन एवं मुझे दूसरों को सुरक्षित रखने का गर्व है की सील लगाए जाने का कार्य किया जा रहा है।