रैली निकालकर वन और वन्य प्राणी संरक्षण का दिया सन्देश

0
377

वन परिक्षेत्र पन्ना में वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह का हुआ समापन

पन्ना।(www.radarnews.in) उत्तर वनमण्डल पन्ना के वन परिक्षेत्र पन्ना अन्तर्गत ग्राम विक्रमपुर में वन मण्डलाधिकारी उत्तर गौरव शर्मा के निर्देशन में वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह का आयोजन किया गया। बुधवार 7 अक्टूबर को ग्राम वन समिति विक्रमपुर की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें वनों और वन्य प्राणियों के संरक्षण के महत्व पर चर्चा की गई। तत्पश्चात जागरूकता कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमें गांव के बच्चों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति देकर बच्चों ने बड़े ही प्रभावी तरीके से बेजुवान वन्य जीवों को बचाने और पर्यावरण संरक्षण का सन्देश दिया।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए परिक्षेत्राधिकारी पन्ना कौशलेन्द्र पाण्डेय ने कहा वन्य प्राणियों और वनों का रिश्ता अभिन्न। वन ही वन्य प्राणियों का घर हैं। वन प्रकृति का ऐसा वरदान हैं, जिन पर मनुष्य का अस्तित्व, उन्नति और समृद्धि निर्भर है। तेजी से बढ़ती आबादी की आवश्यकताओं की पूर्ति और औद्योगिकरण के कारण वनों का रकबा लगातार सिकुड़ रहा है। इसका स्वभाविक दुष्परिणाम वन्य प्राणियों की तादाद घटने, कई वन्य जीवों के विलुप्त होने और संकटग्रस्त होने के रूप में सामने आना खतरे का संकेत है। श्री पाण्डेय ने बताया, वन्य जीवों से मानव जाति को अनेक लाभ प्राप्त हो रहे है। पर्यटन के क्षेत्र में वन्य प्राणियों की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। वन्य प्राणियों से प्राकृतिक संतुलन बना रहता है। इसलिए हमें वनों और वन्य प्राणियों को बचाने के लिए हर सम्भव प्रयास करने चाहिए।
कार्यक्रम के अंत में ग्राम विक्रमपुर में जन जागरूकता रैली निकाली गई। इस अवसर पर 29 छात्र-छात्राओं को जब वनक्षेत्रपाल रजत तोमर व प्रभारी वन परिक्षेत्राधिकारी पन्ना कौशलेंद्र प्रसाद पाण्डेय ने स्कूल बैग वितरित किए तो वे ख़ुशी से चहक उठे। कार्यक्रम में देवेन्द्र सिंह वनपाल, पंकज कुशवाहा, अरुण त्रिवेदी, कृष्ण कुमार विश्वकर्मा मुख्य रूप से उपस्थित रहे।