हीरा खनन परियोजना में हर्षोल्लास के साथ सम्पन्न हुआ ‘राजभाषा पखवाड़ा’

0
429
राजभाषा पखवाड़ा के समापन राजभाषा कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए एनएमडीसी लिमिटेड, हीरा खनन परियोजना मझगवां के मुख्य महाप्रबंधक, एस.के. जैन।

विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेता प्रतिभागियों के घोषित किये नाम

विजेता प्रतिभागियों के घर जाकर वितरित किए गए पुरुष्कार

पन्ना/मझगवां।(www.radarnews.in) हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में एनएमडीसी लिमिटेड हीरा खनन परियोजना मझगवां जिला पन्ना में दिनांक 01 से 19 सितंबर 2020 तक ‘हिंदी पखवाड़ा’ मानया गया। जिसका समापन शनिवार 19 सितंबर को विधिवत पूर्ण गरिमा के साथ हुआ। अपराह्न 3:30बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित हुए इस कार्यक्रम में मुख्य महाप्रबंधक, हीरा खनन परियोजना एस.के. जैन मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। जबकि विशेष अतिथि एवं डायमंड इव्स क्लब की अध्यक्षा श्रीमती रेखा जैन ने विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस कार्यक्रम में भाग लिया।
इस अवसर पर वरिष्ठ प्रबंधक कार्मिक भूपेश कुमार, उप प्रबंधक राजभाषा देबाशीष घोष, श्रमिक संघ के महामंत्री समर बहादुर सिंह व अध्यक्ष बाबूलाल, महामंत्री भोला प्रसाद सोनी व उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह मुख्य महाप्रबंधक के कक्ष में उपस्थित थे। जबकि विभागाध्यक्षों,परियोजना के अधिकारी वकर्मचारियों और विभिन्न प्रतियोगिता के प्रतिभागियों ने विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समापन समारोह में भाग लिया।
वैश्विक महामारी नोबल कोरोना वायरस (COVID-19) संक्रमण के कारण उत्पन्न चुनौतियों को स्वीकारते हुए एवं राजभाषा विभाग, गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा इस संबंध में जारी किए गए दिशा-निर्देशों के अनुपालन में पखवाड़े के अंतर्गत परियोजना अधिकारी और कर्मचारियों, नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति, पन्ना के सदस्य कार्यालयों, विद्यार्थियों, शिक्षकों और गृहिणियों के लिए 09 विविध प्रतियोगिताओं काआयोजन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया।‘हिन्दी दिवस’14 सितंबर 2020को परियोजना अधिकारी और कर्मचारियों के लिए ‘राजभाषा कार्यशाला’ का आयोजन किया गया, जिसमें एनएमडीसी लिमिटेड, हैदराबाद से राजभाषा विभाग के विभागाध्यक्ष एवं उप महाप्रबंधक (राजभाषा) रूद्रनाथ मिश्र अतिथि वक्ता के रूप में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े।
समापन कार्यक्रम में विजेता प्रतिभागियों के नामों की औपचारिक घोषणा की गई और प्रतिभागियों को उनके निवास स्थान पर पुरस्कार वितरित किए गए। अपने अध्यक्षीय सम्बोधन में मुख्य महाप्रबंधक एस.के. जैन ने सभी कर्मचारियों को राजभाषा विभाग, गृह मंत्रलाय, भारत सरकार द्वारा जारी किए गए ‘राजभाषा वार्षिक कार्यक्रम’ के अनुसार कार्यालयीन काम-काज में हिन्दी के प्रयोग को सुनिश्चित करने का आह्वान किया।