बीजेपी के जबेरा विधायक के बिगड़े बोल से मचा बवाल, विरोध में उतरे रेंजर और वनकर्मियों ने की प्रकरण दर्ज करने की मांग

0
875
जबेरा विधायक के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम पन्ना कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी।

* सर्रा रेन्जर को धमकाने एवं शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला

* रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री और वन मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा

शादिक खान, पन्ना। (www.radarnews.in) प्रदेश के दमोह जिले की जबेरा सीट से भाजपा के विधायक धर्मेन्द्र सिंह लोधी के द्वारा वनमण्डल नौरादेही सागर के परिक्षेत्र सर्रा के वन परिक्षेत्र अधिकारी तिलक सिंह रायपुरिया को मोबाइल फोन पर धमकाने और शिकार के मामले में गिरफ्तार अपनी पार्टी के एक कार्यकर्ता को छुड़ाने के लिए दबाव बनाने का ऑडियो वायरल होने के बाद इस प्रकरण ने काफी तूल पकड़ लिया है। सत्ता और पद के नशे में चूर जबेरा विधायक की इस आपत्तिजनक हरकत के खिलाफ प्रदेश भर के रेंजर और वनकर्मी लामबंद हो चुके हैं। फलस्वरूप विधायक धर्मेन्द्र सिंह लोधी के विरुद्ध कार्रवाई की मांग लगातार तेज हो रही है। इसी क्रम में आज पन्ना में रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन ने कर्तव्यनिष्ठ वन परिक्षेत्र अधिकारी सर्रा तिलक सिंह रायपुरिया को न्याय दिलाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और वन मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए जबेरा विधायक धर्मेन्द्र सिंह लोधी के विरुद्ध आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध कराने की मांग की है।
पन्ना टाइगर रिजर्व के उप संचालक को अपनी मांग के सम्बंध ज्ञापन देते हुए रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी एवं वन कर्मचारी संघ अध्यक्ष।
बुधवार को पन्ना में रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष नबी अहमद के नेतृत्व पन्ना कलेक्टर कर्मवीर शर्मा को मुख्यमंत्री और वनमंत्री के नाम सौंपे गए ज्ञापन में उल्लेख है कि दिनांक 10 जुलाई 2020 को प्रातः 10:29 बजे वन परिक्षेत्र अधिकारी सर्रा को मोबाइल नम्बर 7000299476 से जबेरा विधायक धर्मेन्द्र सिंह लोधी के द्वारा कॉल किया गया। विधायक ने शिकार के प्रकरण में गिरफ्तार अपनी पार्टी के एक कार्यकर्ता को छोड़ने की बात कही। रेंजर सर्रा तिलक सिंह रायपुरिया ने जब वन अपराध में गिरफ्तार आरोपी को छोड़ने से इंकार किया तो विधायक जी भड़क उठे। उनके द्वारा रेंजर के साथ गाली-गलौंज करते हुए देख लेने एवं हजार लोगों के साथ घेराव करने की धमकी दी गई। रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन का कहना है कि इस घटनाक्रम के बाद परिक्षेत्र स्तर पर पदस्थ मैदानी अमले में भय का माहौल व्याप्त है।

स्थानांतरण की सिफारिश पर न हो अमल

पन्ना कलेक्टर को ज्ञापन सौंपने के बाद बाहर आते हुए रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी एवं वन कर्मचारी संघ अध्यक्ष।
फोन पर रेंजर को धमकाने से जब बात नहीं बनीं तो भाजपा के जबेरा विधायक ने सर्रा रेंजर का तबादला करने मुख्य वन संरक्षक वृत्त सागर को एक पत्र लिख दिया। रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन पन्ना का कहना है कि यदि इस प्र्रकरण में रेंजर सर्रा तिलक सिंह रायपुरिया का तत्काल स्थानांतरण किया गया तो इस तरह की दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं में बढ़ोत्त्तरी होने की सम्भावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। जिसका व्यापक दुष्प्रभाव मैदानी वन अमले के मनोबल पर पड़ेगा। इन परिस्थितियों में मैदानी वन कर्मचारी भयमुक्त होकर निष्पक्ष रूप से अपने कर्तव्य का निर्वहन नहीं कर पायेंगे।

हस्तक्षेप करना और धमकाना गलत है

ज्ञापन सौंपने के बाद पन्ना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन सम्भागीय अध्यक्ष आर. एस. पटेल एवं जिलाध्यक्ष नवी अहमद।
रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन ने अपने ज्ञापन में इस बात का विशेष रूप से उल्लेख किया है कि, वनकर्मी जंगल के बेहद कठिन और चुनौतीपूर्ण परिस्थितयों में लम्बे समय तक परिवार से दूर रहकर वनों और वन्यजीवों की सुरक्षा करते हैं। वन क्षेत्रों में अवैध कटाई, अवैध अतिक्रमण तथा वन्यप्राणी सम्बंधी अपराधों की रोकथाम के कार्य में वन विभाग का मैदानी अमला न्यूनतम सुविधा एवं साधन के साथ दूरस्थ वनक्षेत्रों में मौसम की परवाह किये बगैर निरंतर जुटा रहता है। निष्ठापूर्वक कर्तव्य का निर्वहन करने वाले कर्मचारियों का उत्साहवर्धन कर उनका मनोबल बढ़ाने के बजाए स्थानीय स्तर पर कतिपय जनप्रतिनिधियों द्वारा शासकीय कर्मचारी को उसके नियमानुसार किये गए कार्य में दखल देते हुए नियम विरुद्ध कार्य करने के लिए दवाब डालना या धमकी देने की प्रवृत्ति लगातार बढ़ रही है। यह अनुचित और आपत्तिजनक है। इससे शासकीय कर्मचारी का मनोबल गिरता है और गैरकानूनी कृत्य करने वालों को बढ़ावा मिलता है। रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन का मानना है कि कानून का पालन सुनिश्चित कराने से रोकने वालों के विरुद्ध यदि कठोर कार्रवाई नहीं की गई तो इससे अराजकता फ़ैल सकती है।

विधायक के खिलाफ हो कार्रवाई

ज्ञापन सौंपने के बाद आगे की रणनीति पर चर्चा करते हुए रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी एवं वन कर्मचारी संघ अध्यक्ष महीप कुमार रावत।
सर्रा रेंजर को धमकाने एवं शासकीय कार्य में बाधा डालने के मामले में रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन एवं वन कर्मचारी संघ पन्ना ने ज्ञापन के माध्यम से संयुक्त रूप से जबेरा विधायक धर्मेन्द्र सिंह लोधी विरुद्ध आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध करने की पुरजोर मांग की है। ज्ञापन में कहा गया है कि इस मामले में नियमानुसार न्याय प्रक्रिया पूर्ण कार्रवाई कराना सुनश्चित किया जाए। जिससे परिक्षेत्र स्तर पर तैनात वन विभाग का मैदानी अमला स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं भय मुक्त होकर नियमानुसार अपने शासकीय कर्तव्यों का निर्वहन कर सके। ज्ञापन सौंपने वालों मुख्य रूप से रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन सम्भागीय अध्यक्ष आर. एस. पटेल, जिलाध्यक्ष नवी अहमद, आर. एस.नर्गेश, गौरव नामदेव, कैलाश बमनिया, आनंद शिवहरे, एम. के. मानिकपुरी, अजय बाजपेई शामिल रहे। रेंज ऑफिसर्स एसोसिएशन की मांग का पन्ना के वन कर्मचारी संघ ने समर्थन किया है। वन कर्मचारी संघ के अध्यक्ष महीप कुमार रावत भी ज्ञापन सौंपने वालों में शामिल हैं।