चार सूत्रीय मांगों को लेकर सोमवार को कलमबंद हड़ताल पर रहेंगे प्रदेश के अधिकारी-कर्मचारी

0
507
अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त मोर्चा पन्ना जिलाध्यक्ष कृष्णपाल सिंह यादव।

* पन्ना जिले में हड़ताल को सफल बनाने संयुक्त मोर्चा जिलाध्यक्ष कृषणपाल सिंह ने की अपील

शादिक खान, पन्ना।(www.radarnews.in) अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के आव्हान प्रदेश भर के अधिकारी-कर्मचारी अपनी चार सूत्रीय लंबित मांगों को लेकर सोमवार 24 अगस्त को कलमबंद हड़ताल पर रहेंगे। संयुक्त मोर्चा पन्ना के नवनियुक्त जिलाध्यक्ष कृष्णपाल सिंह यादव ने प्रेस में जारी विज्ञप्ति में जानकारी देते हुए बताया कि हड़ताल के सम्बंध प्रांतीय नेतृत्व के द्वारा प्रदेश के मुख्य सचिव को दिनांक 31 जुलाई 2020 को प्रेषित पत्र के माध्यम से अवगत कराया जा चुका है। उन्होंने जानकारी देते हुए कहा की सोमवार को होने वाली कलमबंद हड़ताल प्रदेश के अधिकारियों-कर्मचारियों के हितों पर लगातार किये जा रहे कुठाराघात के खिलाफ शंखनाद का ऐलान है। श्री यादव ने बताया ने बताया कि जिन चार सूत्रीय जायज मांगों को लेकर हड़ताल की जानी है वे प्रत्येक अधिकारी-कर्मचारी से जुड़ीं हैं।
जिसमें मुख्य रूप से- जुलाई 2020 की रोकी गई वेतनवृद्धि तत्काल लागू कर आर्थिक लाभ देने, वर्ष 2016 से अधिकारियों एवं कर्मचारियों की पदोन्नति पर रोक लगी है, जिसके कारण अधिकांश अधिकारी एवं कर्मचारी पदोन्नति प्राप्त किये बगैर सेवानिवृत्त हो रहे हैं । इस संबंध में मोर्चा का सुझाव है कि जो अधिकारी एवं कर्मचारी जिस पद के समतुल्य वेतन एवं ग्रेड-पे प्राप्त कर रहे हों उन्हें उसके समकक्ष पदों के नाम से नामित किया जाए। ऐसा करने से शासन पर कोई वित्तीय भार भी नहीं पड़ेगा। शासन द्वारा राज्य के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को मँहगाई भत्ता दिये जाने के संबंध में आदेश जारी किये थे, किन्तु कोरोना महामारी के कारण मँहगाई भत्ता भुगतान के आदेश को स्थगित कर दिया गया था। इस आदेश को वापिस लेते हुये मँहगाई भत्ता 5 प्रतिशत भुगतान करने के आदेश प्रसारित किया जाए।
इसके अलावा सातवें वेतनमान के एरियर की राशि जो तीन वित्तीय वर्षों में भुगतान किया जाना था। इसकी दो किश्तों के भुगतान किये जाने के उपरांत तीसरी किश्त जिसका भुगतान मई-2020 में किया जाना था, जिस पर रोक लगा दिये जाने से एरियर के तीसरी किश्त का भुगतान नहीं हो सका है। साथ ही अध्यापक संवर्ग को छठवें वेतनमान की अप्रैल 2020 में मिलने वाली किश्त का भी भुगतान नहीं हो पाया है । इन रोक को हटाकर लंबित किश्तों का भुगतान कराया जावे एवं सेवानिवृत्ति आयु को 62 वर्ष यथावत रखने की मांग शामिल है।
अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त मोर्चा पन्ना के जिलाध्यक्ष कृष्णपाल सिंह यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि इस सोमवार 24 अगस्त को होने वाली कलमबंद हड़ताल में जिले के सभी मान्यता प्राप्त एवं गैर मान्यता प्राप्त संघों से जुड़े अधिकारी-कर्मचारी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेंगे। आपने बताया कि इस हड़ताल के सम्बंध में पिछले कई दिनों से आवश्यक तैयारियां की जा रहीं थी और साथियों से लगातार सम्पर्क उन्हें इसकी जानकारी दी गई। संयुक्त मोर्चा पन्ना के जिलाध्यक्ष कृष्णपाल सिंह यादव ने जिले के समस्त मान्यता प्राप्त एवं गैर मान्यता प्रापत अधिकारी-कर्मचारी संगठनों से सोमवार 24 अगस्त को होने वाली प्रांतव्यापी कलमबंद हड़ताल को सफल बनाने के लिए सहयोग की अपील की है।