मच्छरों को पैदा होने से रोकने के लिए अपने आसपास का वातावरण स्वच्छ रखें और जल भराव न होने दें : सीएमएचओ

0
622
पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की जयंती सद्भवना दिवस के उपलक्ष्य सद्भावना की शपथ लेते हुए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारी।

* सद्भावना की शपथ लेकर मनाया विश्व मच्छर दिवस

* जिला मलेरिया-फाइलेरिया कार्यालय में कार्यशाला आयोजित

पन्ना। (www.radarnews.in) जिला मलेरिया कार्यालय पन्ना में गुरुवार 20 अगस्त को शासन के शासन के निर्देशानुसार सद्भावना दिवस एवं विश्व मच्छर दिवस मनाया गया। इस अवसर पर एक संक्षिप्त कार्यशाला का आयोजन जिला मलेरिया कार्यालय में ही किया गया। प्रातः 11 बजे कार्यशाला के पहले भूतपूर्व प्रधानमंत्री एवं भारत रत्न स्व. राजीव गांधी जी की जयंती पर सद्भावना की शपथ जिला मलेरिया अधिकारी एच.एम. रावत द्वारा मलेरिया, फाइलेरिया, कुष्ठ, एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के समस्त स्टॉफ को दिलाई गई।
विश्व मच्छर दिवस पर आयोजित कार्यशाला में सीएमएचओ डाॅ. एल.के., डाॅ.गुंजन सिंह, डाॅ. जी.पी. आर्या एवं जिला मलेरिया अधिकारी एच.एम. रावत।
इसके पश्चात मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एल.के. तिवारी ने सर रोनाल्ड राॅस के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर विश्व मच्छर दिवस कार्यक्रम के आयोजन का शुभारम्भ किया। सर रोनाल्ड राॅस को श्रद्धांसुमन अर्पित करते हुए डाॅ. तिवारी ने कहा कि आज 20 अगस्त सन् 1897 को सर रोनाल्ड राॅस द्वारा पहली बार मलेरिया बीमारी के संचारण को मच्छर से जोड़ा गया, इसी याद में प्रतिवर्ष विश्व मच्छर दिवस मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि मलेरिया पेरासाइट का जीवन चक्र मनुष्य के साथ-साथ मादा एनाफिलीज मच्छर से भी संबंधित है। इस खोज के लिए उन्हें सन् 1902 में नोबल पुरुस्कार से भी सम्मानित किया गया था। इस पुरुस्कार को पाने वाले वे पहले ब्रिटिश नागरिक और मेडीकल ऑफीसर थे।

सर रोनाल्ड रॉस की खोज ने बचाई लाखों जानें

कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जी.पी. आर्या ने कहा कि सर रोनाल्ड राॅस ने मलेरिया परजीवी के जीवन चक्र की पूर्ण जानकारी देकर मलेरिया के नियंत्रण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और लाखों लोगों को इस बीमारी से बचाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। सर राॅस इंडियन मेडीकल सर्विस में 25 वर्ष तक भारत में कार्यरत रहे। और यह शोध कार्य उन्होंने भारत भूमि पर रहकर ही पूर्ण किया जो हमारे लिए गौरव की बात है।इस कार्यशाला में एपीडेमियोलाॅजिस्ट डाॅ.गुंजन सिंह, जिला कम्यूनिटी मोबलाईजर दीपक राजपूत और समस्त स्टाफ उपस्थित रहे एवं सम्मलित अधिकारी-कर्मचारियों का धन्यवाद ज्ञापन जिला व्ही.बी.डी. सलाहकार, सदब खान द्वारा किया गया।

कॉल सेंटर में कॉल करके दें बीमारी की सूचना

सीएमएचओ डाॅ. एल. के. तिवारी ने सभी नागरिकों से अपील की है कि विश्व मच्छर दिवस पर संकल्प लेना चाहिए कि हम आसपास के वातावरण को स्वच्छ रखेंगे एवं जल भराव की स्थिति निर्मित नही होने देंगे। प्रत्येक रविवार अपने घर में उपस्थित पानी की टंकी, कूलर, गमलों, बर्तनों, छत पर रखे टायरों एवं अन्य अनुपयोगी सामग्री में भरे हुए पानी को बदलते रहेंगे। जिससे कि मच्छर पैदा होने की स्थिति निर्मित ही न हो और हम मच्छर जनित बीमारियों से स्वयं को एवं अपने समुदाय को सुरक्षित रख सकेंगे एवं इस कार्य में संलग्न स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को सहयोग प्रदान करेंगे। किसी भी बीमारी की सूचना हेतु जिला स्तरीय काॅल सेन्टर नम्बर 07732-252009 पर सम्पर्क किया जा सकता है।