दर्दनाक हादसा : गुस्सैल हाथी ने रेन्जर को दांतों से दबाकर मार डाला, पन्ना टाईगर रिजर्व में मचा हड़कम्प

0
1246
पन्ना टाइगर रिजर्व में हाथी पर बैठकर सर्चिंग करते हुए महावत। (फाइल फोटो)

* टाइगर ट्रेकिंग के दौरान अचानक हाथी रामबहादुर ने किया हमला

* पन्ना टाइगर रिजर्व की हिनौता रेन्ज अंतर्गत गंगऊ क्षेत्र की घटना

शादिक खान, पन्ना। (www.radarnews.in) मध्यप्रदेश के पन्ना टाईगर रिजर्व में टाइगर ट्रेकिंग के दौरान एक गुस्साए हाथी ने हिनौता रेन्जर बी.आर. भगत को दांतों से दबाकर मार डाला। हाथी के अचानक हमला करने से महावत समेत आसपास मौजूद वनकर्मी अत्यंत ही दहशत में आ गए। दिल दहला देने वाली इस घटना की भनक लगते ही पार्क के वरिष्ठ अधिकारी तुरंत मौके पर पहुँच गए। रेन्जर बी.आर. भगत को अचेत अवस्था में मझगंवा क़स्बा में स्थित एनएमडीसी के स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने परीक्षण करने के उपरान्त उन्हें मृत घोषित कर दिया।
रेन्जर बी. आर. भगत का जीवित अवस्था का चित्र।
पन्ना टाइगर रिजर्व के उपसंचालक जरांडे ईश्वर रामहरि ने इस दुखद हादसे की पुष्टि की है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि बाघिन पी-433 का कॉलर कुछ ज्यादा ही टाइट होने से उसे समस्या आ रही थी, इसके सुधार हेतु वन आवश्यक कार्रवाई करने के लिए परिक्षेत्राधिकारी हिनौता बी.आर. भगत को निर्देशित किया गया था। आज हाथियों की मदद से बाघिन पी-433 की ट्रेकिंग के दौरान नर हाथी रामबहादुर अचानक गुस्से में आ गया। इस हाथी ने रेन्जर श्री भगत को धक्का मारा जिससे वह नीचे जमीन पर गिर गए और फिर उनके सीने में अपने विशाल दाँतों से हमला कर दबा दिया। हाथी का महावत जब तक समझ पाता और उसे रोकने का प्रयास करता तब तक रेन्जर श्री भगत मरणासन्न स्थिति में पहुँच चुके थे।
पन्ना जिले के मझगंवा क़स्बा स्थित एनएमडीसी परियोजना का चिकित्सालय।
पार्क के गंगऊ क्षेत्र में शुक्रवार 14 अगस्त को दोपहर लगभग 1 बजे घटित इस अप्रत्याशित घटना के समय मौके पर मौजूद रहे वनकर्मी काफी घबरा गए। घायल रेन्जर को तुरंत वहां से हटाकर सुरक्षित स्थान पर लाया गया और पन्ना टाइगर रिजर्व के वरिष्ठ अधिकारियों को इस हादसे की सूचना दी गई। रेन्जर बी.आर. भगत को अचेत हालत में आनन-फानन नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र मझगवां ले जाया गया। जहां ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक ने सघन परीक्षण करने के पश्चात उन्हें मृत घोषित कर दिया। इस दर्दनाक हादसे की खबर आने के बाद से पन्ना टाइगर रिजर्व एवं उत्तर-दक्षिण सामान्य वन मण्डल पन्ना में शोक की लहर दौड़ गई। वहीं इस दुखद घटना के सम्बंध जिसे भी पता चला वह हतप्रभ रह गया।
फाइल फोटो।
पन्ना टाइगर रिजर्व के उपसंचालक जरांडे ईश्वर रामहरि ने हिनौता रेन्जर बी.आर. भगत की हृदय विदारक हादसे में असामयिक मौत पर गहरा दुःख प्रकट करते हुए कहा कि हमने अपने कर्त्वनिष्ठ, योग्य और संवेदनशील रेन्ज ऑफिसर को खो दिया है। कर्तव्य के निर्वहन के दौरान श्री भगत की मृत्यु हुई है, वे विभाग के शहीद हैं। उधर, रेन्जर एसोसिएशन के सम्भागीय अध्यक्ष आर. एस. पटेल, रेन्जर एसोसिएशन पन्ना के जिलाध्यक्ष नवी अहमद एवं वन कर्मचारी संघ पन्ना के जिलाध्यक्ष महीप कुमार रावत ने रेन्जर श्री भगत के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त करते हुए मृत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।
रेन्जर बी.आर. भगत के सीने में हाथी के हमले से बना दांत के घाव का निशान।
समाचार लिखे जाने तक पन्ना टाइगर रिजर्व के क्षेत्र संचालक के.एस. भदौरिया, उपसंचालक जरांडे ईश्वर रामहरि समेत पार्क के रेन्जर और वन कर्मचारी मझगवां में ही मौजूद थे। मौके पर पर स्थानीय चौकी पुलिस के द्वारा पंचनामा तैयार कर मर्ग कायम करने की कार्रवाई की जा रही थी।