दुखद : मध्यप्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार शिव अनुराग पटैरिया नहीं रहे

0
1063
मध्य प्रदेश के प्रख्यात पत्रकार शिव अनुराग पटैरिया का कोरोना संक्रमण के कारण असामयिक निधन हो गया।

*  कोरोना संक्रमण के चलते इलाज के दौरान इंदौर के अस्पताल में हुआ निधन

*  सीएम शिवराज, कमलनाथ, उमा भारती समेत पत्रकारों ने दी श्रद्धांजलि

*   पन्ना में रडार न्यूज़ के शुभारंभ कार्यक्रम की श्री पटैरिया ने की थी अध्यक्षता

पन्ना। (www.radarnews.in) कोरोना वायरस संक्रमण के कहर ने आज एक और नामवर पत्रकार को हमसे छीन लिया। मध्यप्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार, संपादक और लेखक शिव अनुराग पटैरिया अब नहीं रहे। कोरोना संक्रमण के कारण तबियत बिगड़ने पर उनका इलाज इंदौर के अस्पताल में चल था। इस बीच दिल का दौरा पड़ने से आज सुबह अंतिम सांस ली। मध्यप्रदेश की पत्रकारिता का बेहद सम्मानित चेहरा रहे शिव अनुराग पटैरिया के निधन की दुखद खबर आते ही पत्रकारिता जगत में शोक की लहर दौड़ गई।
उनके निधन पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व मुख़्यमंत्री द्वय कमलनाथ, सुश्री उमा भारती समेत कई जाने-माने पत्रकारों ने शोक जताया है। भारतीय जनसंचार संस्थान, नई दिल्ली के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने शिव अनुराग पटैरिया के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है, उन्होंने कहा कि उनका निधन पत्रकारिता और सामाजिक क्षेत्र के लिए बहुत बड़ी क्षति है।
प्रो. द्विवेदी ने कहा कि शिव अनुराग पटैरिया जनमुद्दों के लिए जूझने वाले पत्रकार थे। उन्होंने छतरपुर से आंचलिक पत्रकार के तौर पर 1978 में पत्रकारिता प्रारंभ कर राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाई। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के संदर्भों पर लिखीं उनकी पुस्तकें बेहद मूल्यवान कृतियां हैं। प्रो. द्विवेदी ने कहा कि उनका जाना तमाम युवा पत्रकारों, पत्रकारिता जगत के लिए एक शून्य रच रहा है, जिसे भर पाना कठिन है।
उन्होंने कहा कि पटैरिया ने अपनी पूरी जिंदगी पत्रकारिता, लेखन और सामाजिक सरोकारों के लिए समर्पित कर दी। अन्याय के विरुद्ध लड़ते हुए वे पत्रकारिता में आए और अपनी धार बनाए रखी। वे स्वभाव से मृदुभाषी थे, किंतु अपनी पत्रकारिता में उन्हें जो लिखना और कहना होता था वही करते थे। वे पत्रकारिता के साथ-साथ पत्रकारिता एवं जनसंचार के अध्यापन में भी तीन दशक तक सक्रिय रहे हैं।
पत्रकारिता जगत में गहरी पैठ रखने वाले शिव अनुराग पटैरिया लम्बे समय से महाराष्ट्र के लोकमत समाचार पत्र समूह से जुड़े थे। वर्तमान में वे लोकमत के मध्यप्रदेश भोपाल ब्यूरो प्रमुख की जिम्मेदारी निभा रहे थे। पटैरिया को उनके शानदार काम के लिए प्रतिष्ठित माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता पुरुष्कार, राजेन्द्र माथुर फैलोशिप, मेदिनी पुरुष्कार, डॉ. शंकर दयाल शर्मा अवार्ड सहित कई पुरुष्कारों से नवाजा गया था।

रडार न्यूज़ के शुभारंभ कार्यक्रम में हुए थे शामिल

अपनी उत्कृष्ट पत्रकारिता से बुंदेलखंड अंचल और मध्यप्रदेश को गौरान्वित करने वाले कलमकार शिव अनुराग पटैरिया का पन्ना से गहरा जुड़ाव रहा है। उनके करीबी रिश्तेदार यहां रहते हैं। वर्ष 2018 में प्रेस स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर 3 मई को पन्ना में हिन्दी न्यूज़ वेबसाइट रडार न्यूज़ डॉट इन के शुभारंभ कार्यक्रम में श्री पटैरिया बतौर अतिथि शामिल हुए थे।
इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने अपने उद्बोधन में बुंदेलखंड की पत्रकारिता के गौरवशाली इतिहास के कुछ अनछुए पहलुओं पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला था। व्यस्तताओं के बीच लंबे अर्से बाद इस कार्यक्रम के जरिए पन्ना आने और करीबी रिश्तेदारों से मुलाक़ात का करने का अवसर मिलने पर पटैरिया ने ख़ुशी जाहिर करते हुए इसे अपना सौभाग्य बताया था।
वरिष्ठ पत्रकार अनुराग पटैरिया के निधन को पत्रकारिता जगत के लिए अपूर्णीय क्षति बताया जा रहा है।
पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने वालों का लंबे समय तक मार्गदर्शन करते रहे वरिष्ठ पत्रकार शिव अनुराग पटैरिया (62) के असामयिक दुखद निधन पर रडार न्यूज़ उनके परिवार के प्रति अपनी शोक संवेदनाएँ व्यक्त करता है।ईश्वर से प्रार्थना है, उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान व शोकाकुल परिजनों को इस गहन दुख को सहने करने की शक्ति प्रदान करें।”