दर्दनाक हादसा : झोपड़ी की आग में ज़िंदा जली मासूम, अबोध बच्चे की बाल-बाल बची जान

0
383
घटनास्थल एवं मृत बालिका के शव मुआयना करते पुलिस अधिकारी एवं एफएसएल टीम ।

* पन्ना जिले के कल्दा पठार क्षेत्र के ग्राम बिरवाही जनपुरा की घटना

पन्ना। (www.radarnews.in) जिले के सलेहा थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले कल्दा पठार के ग्राम बिरवाही जनपुरा में एक खेत में बनीं झोपड़ी में आग लगने से 4 साल की मासूम बच्ची आग की लपटों में जिंदा जल गई। गुरुवार 6 फरवरी को इस हृदय विदारक दर्दनाक हादसे के समय गायत्री गौंड़ पुत्री चरण सिंह गौंड़ 4 वर्ष अपने छोटे भाई के साथ झोपड़ी के समीप खेल रही थी। जबकि उनके माता-पिता निकट स्थित एक दूसरे खेत में थे। आदिवासी दम्पत्ति को जब आगजनी की घटना की भनक लगी तब तक उनकी मासूम बेटी गायत्री गौंड़ की चींखें हमेशा के लिए खामोश हो चुकी थीं। इस हादसे में चरण गौंड़ का दुधमुँहा बच्चा बाल-बाल बच गया।
आग की लपटों में जिस समय झोपड़ी जल रही थी उस समय अबोध बालक समीप ही खेत में गेहूँ की फसल के बीच खेल रहा था। ऐसा माना जा रहा है कि, झोपड़ी के बाजू में स्थित अलाव से आग भड़की है। मासूम बच्ची के आग की लपटों में जिन्दा जलने की स्तब्ध करने वाली घटना को लोग आदिवासी दम्पत्ति की घोर लापरवाही के रूप में देख रहे हैं। इतने छोटे बच्चों को इस तरह असुरक्षित छोड़कर नहीं जाना चाहिए था। गुरुवार को दोपहर के समय हुए इस दुखद हादसे की सूचना कल्दा चौकी पुलिस को शाम के समय मिली। इसलिए शुक्रवार को मृतिका का पोस्टमार्टम हो सका। इस घटना पर सलेहा थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जाँच में लिया है।