हम सबको मिलकर बनाना है मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर प्रदेश – राज्य मंत्री रामखेलावन

0
682
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल पन्ना में विभागीय योजनाओं की समीक्षा करते हुए, उनके बगल में (बाईं तरफ) बैठे कलेक्टर एवं दाईं ओर बैठे जिला पंचायत अध्यक्ष रविराज सिंह यादव।

छात्रावास एवं छात्रगृह शीघ्र प्रारंभ किए जाएंगे

पन्ना। (www.radarnews.in) प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल अल्प प्रवास पर पन्ना जिले के भ्रमण पर आए। यहां उन्होंने संबंधित विभागों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि हम सबको मिलकर मध्यप्रदेश को देश का पहला आत्मनिर्भर प्रदेश बनाना है। उन्होंने जिले में संबंधित विभागों द्वारा की गयी लक्ष्यपूर्ति के प्रति संतोष जाहिर करते हुए कहा कि जिले में जो भी मेरे मंत्रालय से संबंधित विकास के कार्य कराए जाने हैं उनके प्रस्ताव भेजें।

आवास की सूची का आमसभा में हो वाचन

उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि स्वच्छता कार्यक्रम के तहत बनाए जाने वाले शौचालयों के लिए प्राप्त होने वाले बजट से 50 प्रतिशत निर्माण कार्य एवं 50 प्रतिशत पानी की उपलब्धता पर व्यय किया जाना चाहिए। गांवों में बनाए जाने वाले सार्वजनिक शौचालय के रखरखाव के लिए एक व्यक्ति रखा जाए। उन्होंने कहा कि गांव में डुंडी पिटवाकर आमसभा बुलवाई जाए। इस आमसभा में प्रधानमंत्री आवास एवं अन्य हितग्राहीमूलक योजनाओं की सूची का वाचन करने के साथ नये हितग्राहियों के नाम जोड़े जाएं। राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल कहा कि वर्तमान में नवीन निर्माण कार्यो के लिए बजट की उपलब्धता में कठिनाई है। आगामी आने वाले समय में नवीन निर्माण कार्यो के लिए पर्याप्त आवंटन दिया जाएगा। उन्होंने अल्पसंख्यक समुदाय के विकास के लिए कार्ययोजना तैयार कर शासन को भेजने की बात कही। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही छात्रावास एवं छात्रगृह प्रारंभ किए जाएंगे।

बैंकों को भेजे स्वरोजगार योजनाओं के प्रकरण

कलेक्टर संजय कुमार मिश्र द्वारा संबंधित विभागों की जानकारी देते हुए बताया कि पिछडा वर्ग के 3332 छात्र-छात्राओं को पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति वितरित की गयी है। जिले में एक छात्र गृह स्थापित है वर्तमान में कोरोना के कारण इसका संचालन बंद है। अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति के लिए 549 विद्यार्थियों द्वारा ऑनलाइन आवेदन किए गए हैं। जिले में पिछड़ा वर्ग पोस्ट मैट्रिक दो छात्रावास स्थापित है। कोविड-19 के कारण संचालित नही है। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक वर्ग को रोजगार मुहैया कराने के लिए चालू वित्तीय वर्ष में 170 स्वरोजगार के आवेदन कराकर बैंकों को प्रेषित किए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री पिछडा वर्ग एवं अल्पसंख्यक आर्थिक कल्याण योजना अन्तर्गत 36 प्रकरण तैयार कराकर बैंकों को प्रेषित किए गए हैं। इन प्रकरणों पर कार्यवाही करते हुए बैंकों द्वारा प्रकरणों को स्वीकृति प्रदान की जा रही है।

दीवारों पर चस्पा कराई सूची

विमुक्त घुमक्कड एवं अर्द्धघुमक्कड जनजाति वर्ग के लिए पन्ना विकासखण्ड में बालक एवं कन्या दो छात्रावास एवं शाहनगर विकासखण्ड में एक कन्या छात्रावास प्रस्तावित है। इसके लिए भूमि का चयन कर लिया गया है। जिले की विभिन्न जनपदों से इस वर्ग की बस्तियों के विद्युतीकरण के प्रस्ताव मंगाए गए हैं। विमुक्त घुमक्कड एवं अर्द्धघुमक्कड सिविल सेवा परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले प्रतिभागियों को प्रोत्साहन राशि देने की योजना का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। कलेक्टर श्री मिश्र ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत छूटे हुए हितग्राहियों को आवास प्लस में शामिल कर लिया गया है। इन सूचियों को ग्राम पंचायत भवन की दीवारों पर प्रदर्शित कराया गया है। जिससे लोगों को शिकायत करने का मौका न मिले। कलेक्टर श्री मिश्र ने जिला पंचायत कार्यालय भवन बनाए जाने की स्वीकृति एवं बजट के संबंध में मंत्री से अनुरोध किया गया।

जिला पंचायत का नवीन भवन बनाने की मांग

बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष रविराज सिंह यादव ने जिले में संबंधित वर्गों के लिए संचालित की जा रही योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए जिला पंचायत कार्यालय के लिए नवीन भवन की मांग को दोहराया। सम्पन्न हुई बैठक में भाजपा जिलाध्यक्ष रामबिहारी चौरसिया, सुशील त्रिपाठी, तरुण पाठक, अमित गुप्ता, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत बालागुरू के, अपर कलेक्टर जे.पी. धुर्वे, संबंधित अधिकारीगण एवं जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।