चोरी करने आए बदमाशों के गोली चलाने से महिला की मौत, सनसनीखेज वारदात के बाद सीमावर्ती इलाके में दहशत का माहौल

0
960
पन्ना जिला मुख्यालय में महिला के शव के पोस्टमार्टम कराने के लिए शव को वाहन से उतारकर पोस्टमार्टम भवन में ले जाते परिजन।

* पन्ना जिले धरमपुर थाना के अमरछी ग्राम की घटना

* अज्ञात बदमाशों ने पकड़े जाने पर मारपीट की और फिर गोली चलाकर भाग निकले

मुस्तकीम खान, पन्ना/अजयगढ़। (www.radarnews.in) मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में अज्ञात बदमाशों ने एक महिला को गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश के बाँदा जिले की सीमा से सटे धरमपुर थाना के ग्राम अमरछी से गुरुवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात हत्या की खबर आते ही इस दूरस्थ इलाके में सनसनी फ़ैल गई। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि अज्ञात सशस्त्र बदमाश चोरी की वारदात को अंजाम देने की नियत से रात के अंधेरे में आए थे। धरमपुर थाना पुलिस ने इस घटना पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या, मारपीट, आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर उनकी पहचान व धरपकड़ के प्रयास तेजी से शुरू कर दिए हैं। उधर, इस वारदात के बाद से अमरछी गाँव सहित पूरे इलाके में दहशत का माहौल है।

पकड़े जाने पर गोली चलाकर भागा

वाहन में शव के पास बैठीं पीड़ित परिवार की शोक संतृप्त महिलाएं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार 19 जनवरी की रात ग्राम अमरछी निवासी शमीम खान अपने घर के बाहर बाड़े में सो रहा था जबकि उसकी पत्नी साजदा खातून (38) अंदर कमरे में बच्चों के साथ लेटी हुई थी। मध्य रात्रि में शमीम को अजीब सी आहट सुनाई दी जिससे उसकी नींद टूट गई। उसने आवाज लगाते हुए पूँछा कौन है वहाँ, तभी उसे दो अज्ञात संदिग्ध व्यक्ति छिपते हुए नजर आए। शमीम ने तुरंत पास जाकर देखा तो उक्त व्यक्ति गाली-गलौंज करते हुए उससे दूर हटने के लिए कहने लगे। इस बीच शमीम ने एक बदमाश को दबोंचकर उसके ऊपर डण्डे से प्रहार कर दिया। अपने साथी को छुड़ाने के लिए दूसरे बदमाश ने शमीम के सिर पर कट्टे की बट और पत्थर से हमला कर किया। इस बीच शोरगुल सुनकर साजदा कमरे से बाहर आई और पति को बदमाशों से संघर्ष करते हुए देखकर वह दंग रह गई। साजदा अपने पति की मदद के लिए चींखते-चिल्लाते हुए जैसे ही आगे बढ़ी तभी अज्ञात बदमाशों ने गोली चला दी जोकि उसके सीने में जा धंसी। गोली लगते ही खून से लथपथ साजदा जमीन पर गिर गई और इससे अवाक् शमीम जैसे ही उसे उठाने के लिए दौड़ा तभी दोनों अज्ञात बदमाश मौके से भाग निकले। गोली चलने और शमीम के रोने की आवाज सुनकर आस-पड़ोस के लोग तुरंत मौके पर पहुंचे लेकिन तब तक साजदा खातून की साँसें हमेशा के लिए थम चुकीं थी।

अज्ञात बदमाशों का नहीं लगा सुराग

सनसनीखेज हत्या की वारदात की सूचना मिलते ही धरमपुर थाना प्रभारी एम. डी. शाहिद हमराही पुलिस बल के साथ तुरंत अमरछी पहुँचे। अज्ञात हत्यारों के नदी की ओर भागने की जानकारी मिलने पर आसपास के इलाके की सघन सर्चिंग कराई गई। इस घटना की गंभीरता को देखते हुए अजयगढ़ से एसडीओपी इसरार मंसूरी, पन्ना से पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी एवं एडिशनल एसपी बीकेएस परिहार भी रात्रि में ही मौके पर पहुंचे। पुलिस अधिकारियों तथा फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल का मुआयना कर पीड़ित परिजनों से घटना की जानकारी प्राप्त की गई। पुलिस अधिकारियों के द्वारा सनसनीखेज हत्याकाण्ड के खुलासे और अज्ञात हत्यारोपियों की धरपकड़ के लिए धरमपुर थाना पुलिस को आवश्यक मार्गदर्शन दिया गया। प्रारंभिक पुलिस जांच के आधार पर यह आशंका जताई जा रही है कि अज्ञात बदमाश चोरी करने के इरादे से आए थे। इस मामले में धरमपुर थाना पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 294,323,34 एवं आर्म्स एक्ट की धारा 25-27 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है। सीमावर्ती इलाके को दहला देने वाले इस हत्याकाण्ड के 36 घण्टे बाद भी पुलिस अज्ञात बदमाशों का सुराग नहीं लगा सकी।